बजट सभी के सपने साकार करने वाला : PM श्री नरेन्दर मोदी

206
New Delhi: Prime Minister Narendra Modi addressing at the launch of a new mobile app 'BHIM' to encourage e-transactions during the ''Digital Mela'' at Talkatora Stadium in New Delhi on Friday. PTI Photo by Subhav Shukla (PTI12_30_2016_000126A)
loading...

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 01/feb/2017 बुधवार को पेश बजट को ‘भविष्योन्मुखी’ करार देते हुए कहा कि यह बजट गांवों, गरीबों, किसानों, दलितों, पीड़ितों, शोषितों, युवाओं और महिलाओं की आशा आकांक्षाओं को पूरा करेगा, साथ ही रोजगार सृचक, ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों का विकास सुनिश्चित करेगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि बजट सरकार की ओर से पिछले 2/5 वर्षो में किये गए कार्यो और भविष्य में उठाये जाने वाले कदमों के बीच की कड़ी है जो देश को विकास के पथ पर आगे ले जायेगा।

वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा लोकसभा में वर्ष 2017-18 का बजट पेश करने के बाद श्री नरेन्दर  मोदी ने कहा, ‘यह हमारे भविष्य का बजट है, किसानों का बजट है, नई पीढ़ी का बजट है, शहरी और ग्रामीण विकास  को आगे बढ़ाने वाला बजट है।’ जेटली द्वारा पेश बजट को ‘बहूत अच्छा’ करार देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि यह देश का तीव्रता से विकास सुनिश्चित करेगा, रोजगार के नये अवसर पैदा करेगा और किसानों की आय को बढावा देगा।’ उन्होंने कहा कि इससे गांव की स्थिति में बहुत बड़ा बदलाव होगा, गांव के लोगों की जीवन शैली में बड़े बदलाव आयेगे  और उनकी वित्तीय स्थिति भी बदलेगी।

प्रधानमंत्री नरेन्दर मोदी ने कहा कि बजट के माध्यम से राज-कोषीय घाटे को बढ़ाये बिना मध्यम वर्ग की आय में वृद्धि करने का प्रयास किया गया  प्रधानमंत्री ने कहा, ‘यह बजट एक बार फिर से गांव, गरीब और किसानों के कल्याण में समर्पित है। सरकार देश को आगे ले जाने को प्रति-बद्ध है और यह स्पष्ट रूप से दिखाई दे रहा है।’ उन्होंने कहा, ‘रेलवे के आधुनिकीकरण से लेकर आर्थिक सुधारों तक, शिक्षा से स्वास्थ्य और उद्यमिता से उद्योग तक सभी के सपनों को साकार करने की बजट की दृष्टि स्पष्ट रूप से दिखाई दे रही है।’ मोदी ने कहा कि मनरेगा के साथ महिला कल्याण के लिए रिकार्ड आवंटन किया गया है।

बजट में भ्रष्टाचार और कालाधन पूर्ण रूप से समाप्त करने की प्रतिबद्धता स्पष्ट रूप से प्रदर्शित होने को रेखांकित करते हुए मोदी ने कहा कि इसमें डिजिटल अर्थव्यवस्था के लिए समग्र पैकेज प्रदान किया गया है जो कर चोरी और कालाधन पर लगाम लगाने में मदद करेगा। आम लोगों के लिये व्यक्तिगत आयकर दर में कमी लाने का बखान करते हुए उन्होंने कहा कि मध्यम वर्ग को राहत देने के लिए सरकार ने यह ‘साहसिक’ कदम उठाया है।

Status in Hindi
loading...